Home Blog Page 145
Tikender Singh Panwar A fascist leader wants to leave an imprint of his glory on Delhi. If the construction of Volksshalle was the idea of Adolf Hitler, designed and planned by his architect Albert Speer, the proposal of construction of...
बलवंत सिंह मेहता, आई.सी.अवस्थी,मशकूर अहमद, अर्जुन कुमार लॉकडाउन लगाए जाने के बाद से श्रमिकों के साथ एक असंवेदनशील गतिशीलता, विकल्प की कमी के बीच निराशा, एक वस्तु की तरह व्यवहार किया जा रहा था। जैसे कि वो...
सिमी मेहता चीन के बाद में दुनिया भर में कोरोनावायरस का प्रकोप अपने पैमाने और प्रभाव दोनों में अभूतपूर्व रहा है। बदलते विश्व व्यवस्था के युग में इस महामारी ने गैर-पारंपरिक सुरक्षा चुनौतियों से उत्पन्न खतरों की ओर,...
Simi Mehta Coronavirus outbreaks in China and later across the globe have been unprecedented in both their scale and impacts. In the era of changing world order, this pandemic has drawn global attention towards the threats posed by...
बलवंत सिंह मेहता,अर्जुन कुमार स्वतंत्र गिग अर्थव्यवस्था आज की आधुनिक दुनिया में रोज़गार का एक प्रमुख चालक है। फिर भी इसके कर्मचारी असुरक्षा और अस्थिरता के मद्देनज़र अधिक संवेदनशील हैं। जहां सामाजिक सुरक्षा योजना में उनके समावेश के लिए यह...
সৌম্যদীপ চট্টোপাধ্যায়, সিমি মেহতা, অর্জুন কুমার প্রধানমন্ত্রী নরেন্দ্র মোদী করোনার মোকাবিলায় গত ১৪ই এপ্রিল জাতির উদ্দ্যেশে ভাষণে সাতটি পদক্ষেপের অঙ্গ হিসাবে প্রবীণ নাগরিকদের যত্ন নেওয়ার উপর বিশেষ গুরুত্ব দেন। ওয়ার্ল্ড হেলথ অর্গানাইজেশন এর নির্দেশিকা অনুযায়ী প্রবীণ ব্যক্তিরা, বিশেষ করে যারা হার্ট, কিডনি বা ফুসফুসের সমস্যায় ভোগেন তাঁদের করোনা...
बलवंत सिंह मेहता और अर्जुन कुमार भारत के अनौपचारिक क्षेत्र के श्रमिकों को एक अनिश्चित भविष्य का सामना करना पड़ रहा है और जिसमें अब तक के सबसे खराब आर्थिक संकटों में से एक में हो रहे नौकरियों का नुकसान बड़ा है। अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) ने अनुमान लगाया कि विश्व स्तर पर 25 मिलियन से अधिक नौकरियों को कोरोनावायरस के फैलने के कारण खतरा होगा। यह अनुमान है कि 3.3 बिलियन के वैश्विक कार्यबल में पांच...
Balwant Singh Mehta, Arjun Kumar Background Rapid technological advancement around the world has ushered in the era of ‘the future of work’ also known as ‘industry 4.0’ leading to an increase in the number of gig economy workers....
I. C. Awasthi, Balwant Singh Mehta, Mashkoor Ahmad and Arjun Kumar Prelude With close to 100,000 COVID-19 cases, India has entered its eighth week of lockdown. This lockdown 4.0 will remain in force till May 31. Ever...
बलवंत सिंह मेहता और अर्जुन कुमार लॉकडाउन होने के बाद के हफ्तों में देश में केवल 285 मिलियन लोग काम कर रहे थे जबकि 404 मिलियन लोग महामारी फैलने से पहले कार्यरत थे। विश्व स्तर पर कोरोनवायरस के फैलने से 25 मिलियन से अधिक नौकरियों को खतरा होगा अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) का अनुमान है कि 3.3 बिलियन के वैश्विक कार्यबल में पांच में से चार लोग (81 प्रतिशत) वर्तमान में पूर्ण या आंशिक कार्यस्थल बंद होने से प्रभावित हैं। अमेरिका, ब्रिटेन,...

Editors' Picks